एस्टोनिया (Estonia) ने समलैंगिक विवाह को वैध घोषित किया

Rate this post

एस्टोनिया (Estonia) ने समलैंगिक विवाह को वैध घोषित किया

समावेशिता और समानता की दिशा में एक महत्वपूर्ण प्रगति में, एस्टोनिया की संसद ने समलैंगिक विवाह को वैध बनाने वाला एक अभूतपूर्व कानून पारित किया है, जिससे यह ऐसा करने वाला पहला पूर्व-सोवियत देश बन गया है। यह प्रगतिशील कदम नागरिकों के अधिकारों को पहचानने और उनकी रक्षा करने के प्रति देश की प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

चंद्रयान-3, 12 से 19 जुलाई के बीच लॉन्च होगा

समलैंगिक विवाह का वैधीकरण 

एस्टोनिया की संसद ने हाल ही में परिवार कानून अधिनियम में संशोधन को मंजूरी दे दी, जिससे दो वयस्कों को “उनके लिंग की परवाह किए बिना” शादी करने की अनुमति मिल गई। यह मील का पत्थर समान-लिंग वाले जोड़ों के लिए विवाह के मामले में विपरीत-लिंग वाले जोड़ों के समान कानूनी मान्यता का मार्ग प्रशस्त करता है। संशोधित अधिनियम 1 जनवरी, 2024 को प्रभावी होने वाला है, जो एस्टोनिया में LGBTQ+ समुदाय के लिए एक महत्वपूर्ण तारीख है। 

गोद लेने के अधिकार का विस्तार 

हाल ही में NASA ने शेयर की अंतरिक्ष में उगाए गए खूबसूरत फूल की तस्वीर, जानें कैसे हुआ संभव?

समान-लिंग विवाह को वैध बनाने के साथ-साथ, परिवार कानून अधिनियम में संशोधन समान-लिंग वाले जोड़ों को बच्चे गोद लेने का अधिकार भी प्रदान करता है। पहले, केवल विवाहित जोड़े ही गोद लेने के पात्र थे, लेकिन अब एकल समलैंगिक, समलैंगिक और उभयलिंगी व्यक्ति भी एस्टोनिया में बच्चा गोद लेने के लिए याचिका दायर कर सकते हैं। 

जनता की राय बदलना 

एस्टोनिया में समलैंगिक साझेदारियों की मान्यता और स्वीकृति समय के साथ विकसित हुई है। 2016 में पंजीकृत भागीदारी अधिनियम के माध्यम से समलैंगिक संबंधों की कानूनी मान्यता के बाद से, जनता की राय में एक उल्लेखनीय परिवर्तन आया है। एस्टोनियाई मानवाधिकार केंद्र द्वारा किए गए एक हालिया सर्वेक्षण के अनुसार, 53% एस्टोनियाई लोगों का मानना ​​है कि समान-लिंग वाले भागीदारों को एक-दूसरे से शादी करने का अधिकार होना चाहिए। 

 

Author - Er. VIPIN BAGHEL Hi! I`m an authtor of this blog. Read our post - be in trend!

Sharing Is Caring:

Leave a Comment

मिथुन चक्रवर्ती के लड़के ने खोली मिथुन की पोल एक ही हॉस्पिटल में 12 नर्स एक साथ प्रेग्नेंट Word Blood Donor Day